Tribal Culture: देव शक्तियों के पूजन के साथ प्रारंभ होगा स्थानीय आदिवासी समाज का पारंपरिक पहारिया महोत्सव

Tribal Culture: देव शक्तियों के पूजन के साथ प्रारंभ होगा स्थानीय आदिवासी समाज का पारंपरिक पहारिया महोत्सव

कांकेर। Tribal culture: बारह पाली बाबा पहारिया देव कमेटी द्वारा आदि-अनादि काल से आदिम परंपरा का निर्वहन बारह पाली के आराध्य शक्ति पहारिया बाबा के ठाना में आदिम रीति रिवाज व संस्कृति के अनुरूप उन्हीं के बताएं अनुसार धमतरी जिला एवं कांकेर जिला के आश्रित देव शक्तियों के सानिध्य में मरका पंडुम आमा जोगानी पहारिया महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है।

प्रथम दिवस 13 अप्रैल को दोपहर 3 बजे देव शक्तियों का आगमन होगा और संध्या 6 बजे देवी यात्रा कार्यक्रम होगा। द्वितीय दिवस 14 अप्रैल को प्रातः देव शक्तियों का सेवा पूजा, नार गायता का सम्मान, पटेलों का सम्मान वरिष्ठ समाज के वरिष्ठ जनों का सम्मान पंचायत प्रतिनिधियों का सम्मान व विशेष सहयोग करने वालों का सम्मान किया जाएगा। दोपहर 2:00 बजे मंचीय कार्यक्रम होगा।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कवासी लखमा मंत्री उद्योग व आबकारी छत्तीसगढ़ शासन होंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में भानुप्रताप ठाकुर अध्यक्ष अनुसूचित जनजाति आयोग छत्तीसगढ़ मौजूद रहेंगे। इस अवसर पर अन्य अतिथियों के रूप में नीलकंठ टेकाम प्रांताध्यक्ष गोंडवाना गोंड महासभा, शिशुपाल शोरी विधायक कांकेर, संसदीय सचिव, श्रीमती डॉ. लक्ष्मी ध्रुव विधायक सिहावा, उपाध्यक्ष मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण, श्रीमती रंजना साहू विधायक धमतरी और आर एन ध्रुव प्रांताध्यक्ष अनुसूचित जनजाति शासकीय सेवक संघ छत्तीसगढ़ को आमंत्रित किया गया है। कार्यक्रम को सफल बनाने में अध्यक्ष ईश्वर लाल मंडावी पहारिया कोन्हा, सचिव हिंछा राम मंडावी मुरूमतरा, कोषाध्यक्ष रामभरोस कोर्राम खंभेश्री पारा पूरी सक्रियता के साथ जुटे हैं।

कांकेर छत्तीसगढ़