श्रीलंका में परिवार ही सरकार, कैबिनेट में राजपक्षे परिवार के कुल 7 सदस्य

श्रीलंका में परिवार ही सरकार, कैबिनेट में राजपक्षे परिवार के कुल 7 सदस्य

नई दिल्ली। भारत की राजनीति में हम अक्सर वंशवाद की बात करते हैं, लेकिन पड़ोसी देश श्रीलंका में इन दिनों एक पूरा परिवार ही देश की सरकार को चला रहा है। श्रीलंका की राजनीति में रसूख रखने वाले राजपक्षे परिवार के एक और सदस्य बासिल राजपक्षे ने पिछले दिनों देश के वित्त मंत्री का पद संभाल लिया और इस प्रकार से राजपक्षे परिवार की सत्ता पर पकड़ और मजबूत हो गई। राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री से लेकर कृषि और वित्त मंत्रालय तक पर चार सगे भाइयों का कब्जा है। यही नहीं परिवार के कुल 7 सदस्य सरकार में शामिल हैं। दूसरे शब्दों में यह भी कहा जा सकता है कि यहां परिवार ही सरकार है।

बासिल राजपक्षे (70) भाइयों में सबसे छोटे हैं और उनके भाई गोटबाया राजपक्षे राष्ट्रपति, महिंदा राजपक्षे प्रधानमंत्री, चामाल राजपक्षे कृषि मंत्री हैं। बासिल के मंत्रिपरिषद में शामिल होने से सरकार में राजपक्षे परिवार के लोगों की संख्या 7 हो गई है।

अभी तक वित्त मंत्रालय का प्रभार प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के पास था, अब उनके पास आर्थिक नीति और योजना क्रियान्वयन की जिम्मेदारी है। बासिल राजपक्षे को 2010 से 2015 तक महिंदा राजपक्षे प्रशासन का बौद्विक आधार स्तंभ माना जाता था। बासिल के पास अमेरिका और श्रीलंका की दोहरी नागरिकता है और उन्होंने आर्थिक प्रबंधन से ले कर पर्यावरण तक सभी अहम कार्य बलों के प्रमुख की भूमिका भी निभाई है।

बासिल ने पिछले वर्ष हुए संसदीय चुनाव में चुनाव नहीं लड़ा था और वह निर्वाचित सांसदों की राष्ट्रीय सूची के जरिए संसद पहुंचे हैं। सत्तारूढ़ एसएलपीपी राष्ट्रीय सूची के एक सांसद ने इस सप्ताह पद से इस्तीफा दे दिया, जिसके बाद बासिक का संसद में प्रवेश का रास्ता साफ हो गया।

अंतरराष्ट्रीय