Mahasamund: आदि शक्ति मां दुर्गा के अनुष्ठान में महालक्ष्मी और महासरस्वती के साथ विराजित होंगी दस महाशक्तियां

Mahasamund: आदि शक्ति मां दुर्गा के अनुष्ठान में महालक्ष्मी और महासरस्वती के साथ विराजित होंगी दस महाशक्तियां

महासमुंद के शिवालिया पार्क स्थित द्वारिकायन में शारदीय नवरात्र पूजन महोत्सव के अवसर पर प्रतिदिन हवन-पूजन

महासमुंद। Mahasamund: नवरात्र के अवसर पर आदि शक्ति मां दुर्गा की पूजा को लेकर समूचा अंचल तैयारियों में लगा हुआ है। सोमवार 26 सितंबर से आरंभ होने जा रहे दुर्गा उत्सव के लिए गांव-शहर में पंडाल सजने लगे हैं।

महासमुंद के शिवालिया पार्क स्थित द्वारिकायन में भी नवरात्र के अवसर पर अनुष्ठान का आयोजन किया जा रहा है। आदि शक्ति मां दुर्गा के अनुष्ठान में महालक्ष्मी और महासरस्वती के साथ दस महाशक्तियों की अराधना के लिए नवरात्र के नौ दिन अखंड हवन किया जाएगा।

जन कल्याण के निमित्त आयोजित अनुष्ठान में यज्ञकर्ता श्रीश्री 108 गुरुदेव श्री सुरेश बालब्रह्मचारी जी वैदिक मंत्रोच्चार के साथ महाशक्तियों का आह्वान करेंगे। आयोजक नीरज और सार्थक गजेंद्र ने बताया कि नवरात्र के एक दिन पहले रविवार 25 सितंबर को दोपहर साढ़े तीन बजे कलश यात्रा निकलेगी। यात्रा बागबाहरा रोड शिवालिया पार्क से बरोंडा चौक स्थित गायत्री मंदिर पहुंचेगी। गायत्री मंदिर परिसर से अभिमंत्रित जल को कलश में लेकर पूजन स्थल पहुंचेंगे। उन्हाेंने शहर की महिलाओं से आह्वान किया है कि कलश यात्रा में शामिल होने के लिए अधिकाधिक संख्या में पहुंचे। अमावस्या के अवसर कलश यात्रा के दिन अग्निदेव की स्थापना की जाएगी। अनुष्ठान में प्रतिदिन शाम 4 बजे से हवन और 7 बजे आरती होगी।

26 सितंबर को अभिजित मुहूर्त में अखंड ज्योति प्रज्ज्वलित की जाएगी और इसी दिन दस महाशक्तियों की प्रतिमाओं की स्थापना होगी। 30 सितंबर को माता का शृंगार और महासरस्वती का आह्वान और 30 सितंबर को नौ कन्याओं का पूजन-भोज आयोजित है। आयोजन को लेकर तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ धर्म- संसकृति- परंपरा महासमुंद