जनसंख्या नियंत्रण कानून पर CM योगी की दो टूक- हर मुद्दे को राजनीतिक चश्मे से नहीं देख सकते

जनसंख्या नियंत्रण कानून पर CM योगी की दो टूक- हर मुद्दे को राजनीतिक चश्मे से नहीं देख सकते


कानपुर। उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक इंटरव्यू के दौरान अपनी बेबाक राय रखी और चुनावों को लेकर पार्टी और वे क्‍या सोचते हैं इस बारे में भी बताया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान कहा कि बीजेपी सबसे बड़ा दल है लकिन उनके लिए पार्टी के लिए दल से बड़ा देश है. इसके साथ ही विधानसभा चुनावों के जिक्र पर उन्होंने कहा कि चुनाव हमारे लिए सिर्फ साधन हैं, साध्य नहीं  वहीं जनसंख्या नियंत्रण कानून विधानसभा चुनावों से पहले क्यों लाया जा रहा है, इस पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनसंख्या का नियंत्रण केवल और केवल जागरूकता से ही हो सकता है। उन्होंने कहा कि हर निर्णय या योजना को राजनीतिक चश्मा लगाकर नहीं देखा जा सकता है, हमारी हर योजना के पीछे राज्य में खुशहाली लाना है।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनसंख्या नीति पर आगे कहा 21-30 की नीति को 2016 या 17 में तो नहीं लाता। विपक्ष हर वर्ग को गरीब रखना चाहता है, पिछले 7 सालों में केंद्र सरकार की सभी योजना के पीछे लोक कल्याण की भावना है। जनसंख्या कानून पर आए सलमान खुर्शीद के बयान पर योगी आदित्यनाथ ने इस दौरान पलटवार करते हुए कहा कि उनका बयान कांग्रेस के संस्कारों के अनुरूप है, वो जिस तरह के संस्कार से आते है उनके बयान भी उसी तरह से होंगे।


ब्लॉक प्रमुख और जिला पंचायत चुनाव में मिली बीजेपी को बंपर जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए सीएम योगी ने कहा कि अति आत्मविश्वास जैसी स्थिति कहीं नहीं है। 2017 में यूपी में बीजेपी अपने सहयोगियों के साथ विधानसभा चुनाव जीती। 2019 में बीजेपी ने सपा-बसपा के गठबंधन को भी मात दी। हालांकि राजनीतिक विश्लेषक हमें 25 से ज्यादा लोकसभा सीटें नहीं दे रहे थे, लेकिन बीजेपी के खाते में 65 सीटें आईं। जिला पंचायत और ब्लॉक प्रमुख चुनावों पर सीएम योगी ने कहा कि परिणाम ये साफ बताते हैं कि बीजेपी अपने काम के दम पर जीती है। उन्होंने कहा कि राज्य में चुनाव पूर्ण शांति के साथ संपन्न हुए हैं।

राष्ट्रीय