Chhattisgarh: 4 किलोमीटर पैदल चलकर चढ़े पहाड़ी,   दुर्गम इलाके की बस्ती में पेड़ के नीचे लगाया स्वास्थ्य शिविर

Chhattisgarh: 4 किलोमीटर पैदल चलकर चढ़े पहाड़ी, दुर्गम इलाके की बस्ती में पेड़ के नीचे लगाया स्वास्थ्य शिविर

अम्बिकापुर। Chhattisgarh: कलेक्टर संजीव कुमार झा के निर्देशानुसार जिले के दुर्गम गांवों एवं बसाहटों में  स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा स्वास्थ्य जांच एवं जन जागरूकता शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बतोली की टीम द्वारा 4 किलोमीटर पहाड़ी चढ़कर ग्राम पंचायत नकना के पहाड़पारा में स्वास्थ्य जांच एवं जागरूकता शिविर लगाया गया। शिविर में विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवा समुदाय के करीब 100 लोगों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण किया गया जिसमें मलेरिया जांच, हिमोग्लोबिन जांच, कोरोना जांच शामिल हैं। लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने के लिए चिकित्सा परामर्श प्रदान किया गया। लोगों को मलेरिया से सुरक्षित रखने के लिए निःशुल्क मच्छरदानी का वितरण भी  किया गया।


बतौली बीएमओ डॉ संतोष सिंह ने बताया कि जनपद मुख्यालय बतौली से लगभग 25  किलोमीटर दूर स्थित ग्राम पंचायत नकना के दुर्गम बसाहट  पहाड़पारा में बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा शिविर लगाया गया। कर्मचारियों ने ग्राम पंचायत नकना तक  21 किलोमीटर  वाहन से 4 किलोमीटर पैदल पहाड़ी पर चढ़कर आदिवासी बाहुल्य पहाड़पारा तक पहुंचे। शिविर में ग्रामवासियों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया गया। कोविड से बचाव के लिए मास्क लगाने तथा सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए समझाईश दी गई। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बतौली के द्वारा विशेष टीम गठित की गई है जो प्रतिदिन दूरस्थ अंचल का दौरा कर लोगों को निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा सह परामर्श प्रदान करती है।

स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान आरएमए डॉ रितेश पटेल, बीपीएम अमित एक्का तथा स्वास्थ्य विभाग के अन्य कर्मचारी श्रद्धा कर, रामकृपाल कुशवाहा, दिलीप एक्का, विपिन कुमार, तथा सुराजी किंडो उपस्थित थे।

अंबिकापुर छत्तीसगढ़