क्‍या वाकई बांग्‍लादेश भारत के प्रति व्‍यक्ति आय के स्‍तर को पार करके आगे निकल जाएगी ? सरकार ने संसद में दिया यह जवाब…

क्‍या वाकई बांग्‍लादेश भारत के प्रति व्‍यक्ति आय के स्‍तर को पार करके आगे निकल जाएगी ? सरकार ने संसद में दिया यह जवाब…

नई दिल्ली। संसद के मॉनसून सत्र में सरकार मैं विपक्ष की ओर से एक महत्वपूर्ण सवाल लाया गया। इस साल में वर्ल्ड बैंक और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया गया था, कि जिस स्तर पर बांग्लादेश में आर्थिक विकास हो रहे हैं और भारत की आर्थिक विकास की वर्तमान दर को देखते हुए बांग्लादेश की अर्थव्यवस्था प्रति व्यक्ति आय के लिहाज से भारत से आगे निकल सकती है। इस आशंका को रखते हुए विपक्ष ने मानसून सत्र के दौरान सरकार के सामने इस पर स्पष्टीकरण की मांग को लेकर सवाल उठाया।

सरकार से पूछा गया था कि क्‍या वाकई बांग्‍लादेश साल 2021 में भारत के प्रति व्‍यक्ति आय के स्‍तर को पार करके आगे निकल जाएगा, जैसा कि आईएमएफ की तरफ से अनुमान लगाया गया है? सरकार की तरफ से वित्‍त राज्‍य मंत्री पंकज चौधरी ने ऐसे कुछ सवालों के जवाब दिए। पंकज चौधरी ने सदन को बताया कि आईएमएफ और वर्ल्‍ड इकोनॉमिक आउटलुक (WEO) की रिपोर्ट के मुताबिक अगर भारत के प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का अनुमान लगाए तो यह अप्रैल 2021 में 7332.9 अमेरिकी डॉलर थी, जबकि बांग्‍लादेश की बात करें तो यह 5811.6 अमेरिकी डॉलर थी।

पंकज चौधरी ने जानकारी दी कि आईएमएफ के मुताबिक अप्रैल 2021 में भारत की अर्थव्‍यवस्‍था 12.5 फीसदी की दर से बढ़ी है जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है। उन्‍होंने जवाब में आगे कहा कि भारत की PPP साल 2016 में बांग्‍लादेश की तुलना में 41 फीसदी ज्‍यादा 5839.9 अमेरिकी डॉलर थी जबकि पड़ोसी देश का आंकड़ा 4118.9 अमेरिकी डॉलर था।

इस वर्ष मार्च में बांग्‍लादेश सरकार की तरफ से वित्‍तीय वर्ष 2020-2021 से जुड़े कुछ आंकड़े जारी किए गए थे, जिसके अनुसार वहां प्रति व्‍यक्ति आय 2227 डॉलर तक पहुंच गई है, जबकि साल 2019-20 में यह आंकड़ा 2064 डॉलर था। हालांकि इन आंकड़ों को बहुत से अंतरराष्ट्रीय आर्थिक विशेषज्ञ और संस्थाएं नकार रही हैं। वहीं भारत में वर्तमान प्रति व्यक्ति आय 1947.41 डॉलर ही है।

राष्ट्रीय